RAJNI GUPT

रजनी गुप्त का जन्म 2 अप्रैल, 1963, चिरगाँव, झाँसी (उ.प्र.) में हुआ। जे.एन.यू., नयी दिल्ली से उन्होंने एम.फिल., पीएच. डी. की शिक्षा प्राप्त की। इनकी प्रकाशित कृतियाँ हैं - कहीं कुछ और, किशोरी का आसमाँ, एक न एक दिन, कुल जमा बीस (उपन्यास); एक नयी सुबह, हाट बाजार, दो कहानी संग्रह शीघ्र प्रकाश्य (कहानी संग्रह); आजाद औरत कितनी आजाद, मुस्कराती औरतें, आखिर क्यों व कैसे लिखती हैं स्त्रियाँ (सम्पादन); सुनो तो सही (स्त्री विमर्श)। रजनी गुप्त ‘कहीं कुछ और’ उपन्यास राजर्षि पुरुषोत्तम दास टंडन ओपन यूनिवर्सिटी (उ.प्र.) के स्त्री विमर्श के पाठ्यक्रम एवं ‘सुनो तो सही’ हिन्दी साहित्य के इतिहास में शामिल रही हैं। पिछले 13 सालों से ‘कथाक्रम’ साहित्यिक पत्रिका में सम्पादकीय सहयोग दिया है। रजनी गुप्त को ‘एक नयी सुबह’ पर उत्तर प्रदेश हिन्दी संस्थान का सर्जना पुरस्कार एवं युवा लेखन पुरस्कार, किताब घर प्रकाशन द्वारा आर्यस्मृति साहित्य सम्मान 2006, ‘किशोरी का आसमां’ उपन्यास पर उत्तर प्रदेश हिन्दी संस्थान द्वारा अमृतलाल नागर पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। रजनी गुप्त राष्ट्रीयकृत बैंक में प्रबन्धक के पद पर हैं।

RAJNI GUPT