Markandey

मार्कण्डेय जन्म: 2 मई 1930, बराई गाँव, जिला-जौनपुर। शिक्षा: ककहरा, गाँव में, आगे की पढ़ाई प्रतापगढ़, विश्वविद्यालयीन शिक्षा इलाहाबाद। उन दिनों प्रतापगढ़ में चलने वाले किसान आन्दोलन से प्रभावित। अवध के तालुकेदारियों मंे होने वाले किसानों के भयावह शोषण ने दिलोदिमाग में गहरा असर डाला। भूमिहीनों व किसानों के शोषण और दुर्दशा के विभिन्न आयामों पर अनेक कहानियाँ लिखीं। प्रमुख कहानी संग्रह: ‘पान-फूल’, ‘महुए का पेड़’, ‘हंसा जाई अकेला’, ‘भूदान’, ‘माही’, ‘सहज और शुभ’, ‘बीच के लोग’ और ‘हलयोग’। उपन्यास: ‘सेमल के फूल’, ‘अग्निबीज’। एकांकी संग्रह: ‘पत्थर और परछाइयाँ’। काव्य संग्रह: ‘सपने तुम्हारे थे’, ‘यह पृथ्वी तुम्हें देता हूँ’। आलोचना: ‘कहानी की बात’, ‘नयी कहानी की उपलब्धियाँ’। साहित्य संवाद: ‘कल्पना’ में चक्रधर नाम से लिखा गया स्तम्भ ‘साहित्यधारा’। ‘चक्रधर की साहित्यधारा’ नाम से प्रकाशित। निधन: 18 मार्च, 2010

Markandey

Books by Markandey