DR.HARDAYAL

डॉ. हरदयाल जन्म : 24 मार्च 1939; जगत, बदायूँ, उत्तर प्रदेश। शिक्षा : एम. ए., पीएच.डी., डी. लिट्.। वृत्ति : अध्यापन 43 वर्ष तक उत्तर प्रदेश के तीन कॉलिजों और दिल्ली के श्यामलाल कॉलेज़ तथा दिल्ली विश्वविद्यालय में स्नातक एवं स्नातकोत्तर कक्षाओं को पढ़ाने और पीएच.डी. के शोधछात्रों के निर्देशन-परीक्षण के पश्चात् सेवानिवृत्त। प्रकाशन : शोधप्रबन्ध-कबिराजा बॉकीदास : जीवन और साहित्य (पीएच.डी.); आधुनिक हिन्दी कविता का अभिव्यंजनाशिल्प (डी.लिट्.)। आलोचना : आधुनिक हिन्दी गद्य-साहित्य; हिन्दी कविता का समकालीन परिदृश्य; आधुनिक बोध और विद्रोह; कालजयी कथाकृति और अन्य निबन्ध; समकालीन अनुभव और कविता की रचनाप्रक्रिया; हिन्दी कविता : आठवाँ दशक; साहित्य और सामाजिक मूल्य; हिन्दी कविता की प्रकृति; आलोचना-कर्म; आधुनिक हिन्दी कविता; रचना और समालोचना। कविता-संग्रह : अखबार में अँधेरा; फूल-पत्थर; कंकाल आग। सम्पादन : आज की हिन्दी कविता; विचारों के बिम्ब; विश्वविद्यालय स्तरीय पन्द्रह पाठ्य पुस्तकें; ‘समीक्षा' त्रैमासिक डॉ. गोपाल राय के साथ। पुस्तक-रूप में प्रकाशित रचनाओं के अतिरिक्त आपकी कविताएँ, निबन्ध, आलोचना, संस्मरण आदि विधाओं की रचनाएँ विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं में निरन्तर प्रकाशित होती रहती हैं। साथ ही विभिन्न सम्पादित ग्रन्थों में भी आपकी रचनाएँ संगृहीत हुई हैं। सम्मान : ‘साहित्यकार-सम्मान', हिन्दी अकादमी, दिल्ली।

DR.HARDAYAL