DR. RAMMURTI TRIPATHI

"जन्म: 4 जनवरी, 1929; जन्म-स्थान: नीवी कलाँ, वाराणसी (उ.प्र.)। शिक्षा: काशी हिन्दू विश्वविद्यालय से एम.ए., पी-एच.डी.; साहित्याचार्य, साहित्यरत्न। काव्यशास्त्र एवं दर्शन के प्रकांड पंडित। हिंदी विभाग, विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन के प्रोफेसर एवं अध्यक्ष पद से सेवानिवृत्त। प्रकाशित कृतियाँ: व्यंजना और नवीन कविता, भारतीय साहित्य दर्शन, औचित्य विमर्श, रस विमर्श, साहित्यशास्त्र के प्रमुख पक्ष, लक्षणा और उसका हिन्दी काव्य में प्रसार, रहस्यवाद, काव्यालंकार सार संग्रह और लघु वृत्ति की (भूमिका सहित) विस्तृृत व्याख्या, नृसिंह चम्पू (व्याख्या), हिन्दी साहित्य का इतिहास, कामायनी: काव्य, कला और दर्शन, आधुनिक कला और दर्शन, भारतीय काव्यशास्त्र के नए संदर्भ, भारतीय काव्यशास्त्र: नई व्याख्या, तंत्र और संत, आगम और तुलसी, रस सिद्धांत: नए संदर्भ (प्रस्तोता के रूप में)।"

DR. RAMMURTI TRIPATHI