धर्म और साम्प्रदायिकता

Format:Hard Bound

ISBN:978-93-5072-220-6

लेखक:असग़र अली इंजीनियर

Pages:408

मूल्य:रु695/-

Stock:In Stock

Rs.695/-

Details

धर्म और साम्प्रदायिकता

Additional Information

असग़र अली इंजीनियर, देश के उन चुनिन्दा समाजशास्त्रियों में से हैं जो भारतीय समाज में फैली साम्प्रदायिकता जैसी बीमारी की तह तक जाने की कोशिश करते हैं और उसके प्रतिफलन साम्प्रदायिक दंगो का बारीक अध्ययन कर उन्हें रोकने में राज्य की असफलता के कारणों को रेखांकित करते हैं। गहरी प्रतिबद्धता के साथ वे अपने समाज की बुराइयों से जूझते नजर आते हैं। जिस बोहरा समाज से वे आते हैं उसमें व्याप्त कुरीतियों से भी वे जीवन बाहर लड़ते रहे हैं और शारीरिक तथा आर्थिक क्षतियों के रूप में उन्होनें खामियाज़ा भी भुगता हैं। अलग-अलग समय पर पत्र-पत्रिकाओं में लिखे गये उनके लेख भारतीय समाज की उनकी गहरी समझ, कट्टरता के विरूद्ध उनकी प्रतिबद्धता और निर्भीक बयानी के लिए प्रसिद्ध उनकी ख्याति के अनुरूप हैं। किसी भी ऐसे शोधार्थी के लिए जिसकी दिलचस्पी भारतीय समाज को समझने में है, असग़र अली इंजीनियर का लेखन एक अनिवार्य पाठ्य सामग्री की तरह है। उन्हें पढ़कर भारत की जटिल सामाजिक संरचना और यहाँ मौजूद दो बड़े धर्मों - हिन्दू और इस्लाम में विश्वास रखने के बीच के आपसी रिश्तों को समझने में मदद मिलेगी।

About the writer

ASGAR ALI ENGINIAR

ASGAR ALI ENGINIAR प्रसिद्ध सामाजिक चिन्तक एवं कार्यकर्त्ता। पिछले चार दशक से साम्प्रदायिकता, धार्मिक कट्टरता से जमीनी रूप से एवं कलम के द्वारा प्रतिरोध। 53 से अधिक पुस्तकों का संपादन एवं लेखन। प्रसिद्ध राइट लाइवलीहुड पुरस्कार से सम्मानित। सम्प्रति : सेंटर फॉर स्टडी ऑफ़ सोसाइटी एंड सेकुलरिज़्म, मुम्बई के अध्यक्ष।

Books by ASGAR ALI ENGINIAR

Customer Reviews

No review available. Add your review. You can be the first.

Write Your Own Review

How do you rate this product? *

           
Price
Value
Quality