कविता का परिसर : एक अन्तर्यात्रा

Format:Hard Bound

ISBN:978-93-5072-741-6

लेखक:रामेश्वर राय

Pages:126

मूल्य:रु325/-

Stock:In Stock

Rs.325/-

Details

कविता का परिसर : एक अन्तर्यात्रा

Additional Information

कविता अपने पाठकों से बोलना-बतियाना चाहती है, लेकिन हिन्दी में 'आलोचक नामक प्रजाति ने इस संवाद को असम्भव बना दिया है। आलोचक जब बोलने लगता है तो कविता चुप हो जाती है। जैसे वर्ण-व्यवस्था में व्यक्ति की पहचान का आधार उसकी मानवीय योग्यता नहीं, उसकी जाति होती। है, उसी तरह आलोचना के विभिन्न सम्प्रदाय कविता की श्रेष्ठता और सार्थकता का निर्णय, कविता से बाहर अपने बने-बनाये पैमानों के आधार पर करते हैं। शास्त्रवादी आलोचना समय के प्रवाह में। अजनबी और अर्थ हो चुकी कसौटियों को मूल्यांकन का आधार बनाती है। मार्क्सवादी आलोचना खाप पंचायत की ही एक साहित्यिक शाखा है। वह मार्क्सवादी फरमानों का विरोध करने वालों को कलावादी, समाज-विरोधी प्रतिक्रियावादी और अमेरिकापरस्त करार देकर कालापानी की सजा सुनाती है। विमर्शवादी आलोचना की निगाह में हर कविता या तो किसी जाति का प्रतिनिधित्व करती। है या लिंग का। यानी रचना सवर्ण होती है, दलित होती है, पुरुष या स्त्री होती है। इन सभी सम्प्रदायों का बल रचना से संवाद पर नहीं, अपने-अपने सिद्धान्तों के प्रचार पर होता है। इनके लिए रचना प्रचार की सामग्री भर है। क्या आलोचना की कोई ऐसी जमीन है जहाँ से रचना का पूरा आकाश दिख सके ?यह किताब उसी ज़मीन की तलाश में एक बेहद मामूली, छोटा-सा क़दम है।

About the writer

PROF. RAMESHWAR RAY

PROF. RAMESHWAR RAY जन्म : मिदनापुर (पश्चिम बंगाल) 1960 शिक्षा : आरम्भिक शिक्षा : बिहार के पैतृक गाँव में इंटर : बी.एन. कॉलेज़, पटना विश्वविद्यालय। बी.ए. (हिन्दी आनर्स) एवं एम.ए. (हिन्दी) : हिन्दू कॉलेज, दिल्ली। विश्वविद्यालय एम. फिल. तथा पीएच.डी. : दिल्ली विश्वविद्यालय।। प्रकाशन : निबन्धों की दनिया' शृंखला के अन्तर्गत रामविलास शर्मा, निराला तथा मलयज के निबन्धों का संकलन-सम्पादन। महात्मा गाँधी। रामेश्वर राय अन्तरराष्ट्रीय हिन्दी विश्वविद्यालय के लिए प्रो. निर्मला जैन के आलोचनात्मक निबन्धों का संचयिता' शीर्षक से संकलन-सम्पादन। पत्र-पत्रिकाओं में छिटपुट लेखन। सम्प्रति : हिन्दू कॉलेज (दिल्ली विश्वविद्यालय) में एसोसिएट प्रोफ़ेसर।

Customer Reviews

No review available. Add your review. You can be the first.

Write Your Own Review

How do you rate this product? *

           
Price
Value
Quality