Format:Hard Bound

ISBN:978-93-5072-724-9

लेखक:कृष्ण कुमार

Pages:104

मूल्य:रु225/-

Stock:In Stock

Rs.225/-

Details

No Details Available

Additional Information

No Additional Information Available

About the writer

KRISHNA KUMAR

KRISHNA KUMAR जन्म: 14 फरवरी 1940, बहराइच, उत्तर प्रदेश। शिक्षा: बी.टेक. (आई.आई.टी. मद्रास, 1964), पीएच.डी. (सरे विश्वविद्यालय यू.के., 1980)। साहित्यिक उपलब्धियाँ: गीतांजलि बहुभाषीय साहित्यिक समुदाय की स्थापना (1995), अध्यक्ष कार्यकारिणी समिति (छठा विश्व हिन्दी सम्मेलन, 1999), अन्तरराष्ट्रीय, बहुभाषीय संगोष्ठी, रामायण सम्मेलन, त्रिदिवसीय क्षेत्राीय हिन्दी सम्मेलन का आयोजन (2005, 2006, 2011)। प्रकाशन: ‘मैं अभी मरा नहीं’, ‘चिन्तन बना लेखनी मेरी’, ‘लेकिन पहले इंसान बनो’, ‘अक्षर-अक्षर गीत बने’, ‘एक त्रिवेणी ऐसी भी’, ‘नर्तन करते शब्द’ (काव्य संग्रह); ‘क्यों, क्यों और आखिर क्यों’, ‘और कथाएँ ऐसी भी’ (कहानी संग्रह); ‘भाषा साहित्य और राष्ट्रीयता’ (निबन्ध संग्रह)। सम्पादन: धनक, ओऐसिसि पोएम्स, काव्य सफष्र, मल्टीफेष्थ मल्टीलिंग्वल पोएम्स फषर पीस ऐंड टुगेदरनेस, पोएम्स ऑफ होप सभी बहुभाषी काव्य संग्रह अंग्रेजी अनुवाद के साथ, सूरज की सोलह किरणें (काव्य संकलन), अपनी-अपनी उम्मीदों के साथ (कहानी संग्रह)। सम्मान: राष्ट्रीय एकता सम्मान (भोपाल, 2004), अक्षरम् हिन्दी सेवा सम्मान (दिल्ली, 2006), प्रवासी भारतीय हिन्दी भूषण (उ.प्र. हिन्दी संस्थान, लखनऊ, 2006), महर्षि अगस्त्य सम्मान (रामायण केन्द्र मोरिशस, 2008), विश्व हिन्दी सम्मान (दक्षिण अफ्रीका, 2012), हरिवंश राय बच्चन लेखन सम्मान (भारतीय दूतावास लन्दन, 2012)। सम्पर्क: 21 बिडफॅर्ड ड्राइव, सेली ओक, बर्मिंघम, बी 29 6 क्यू जी, यू. के.। दूरभाष: 00441214725464 ई-मेल: profdrkrishna@gmial.com

Customer Reviews

No review available. Add your review. You can be the first.

Write Your Own Review

How do you rate this product? *

           
Price
Value
Quality