GANDHI MERE BHITAR

Format:

ISBN:978-93-5000-218-6

Author:RAJ KISHORE

Pages:

MRP:Rs.295/-

Stock:In Stock

Rs.295/-

Details

गाँधी एक विचार है, एक दर्शन है और एक शास्त्र, गाँधी को समझना इतना आसान नहीं है। जितना की वर्तमान परिप्रेक्ष्य में सोचा जा रहा है । गाँधी जी ने अंग्रेजों के समक्ष कहा था कि तुम मुझे मार सकते हो, लेकिन क्या तुम मेरे विचारों को मार सकते हो ? गाँधी की यह बातें व्यक्ति को उत्साह, जोश देती हैं । जिसे आम व्यक्ति कहा जाता है। महात्मा गाँधी के जीवन और विचारों पर हजारों पुस्तकें लिखी जा चुकी हैं, फिर भी हर साल कुछ न कुछ नई पुस्तकें आ ही जाती हैं। क्या महात्मा का व्यक्तित्व इतना गूढ़ और रहस्यमय था कि उसे समझना अभी तक बाकी है? या, उसमें कुछ ऐसे कि शाश्वत सत्य हैं, जिन पर नए-नए सन्दर्भों में विचार करना जरूरी हो जाता है ? महात्मा को समझने का सही तरीका क्या है ? भक्ति भाव से उस सबका जाप, जो वे कह या कर गए हैं ? या, उसका तटस्थ आलोचनात्मक मूल्यांकन ? या, उससे भी आगे अपने जीवन में उसके परीक्षण के द्वारा निष्कर्षों तक पहुँचता है ? यह भूलना नहीं चाहिए कि महात्मा गाँधी ने अपनी जीवन कथा को 'सत्य के प्रयोग' बताया है ।

Additional Information

No Additional Information Available

About the writer

RAJ KISHORE

RAJ KISHORE राजकिशोर सिंह,भारत के उत्तर प्रदेश की सोलहवीं विधानसभा सभा में विधायक हैं। 2012 उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव में इन्होंने उत्तर प्रदेश की हर्रैया विधान सभा निर्वाचन क्षेत्र (निर्वाचन संख्या-307)से चुनाव जीता।

Customer Reviews

No review available. Add your review. You can be the first.

Write Your Own Review

How do you rate this product? *

           
Price
Value
Quality