EK KOI THA KAHIN NAHIN-SA

Format:

ISBN:978-93-5000-137-0

Author:MEERA KANT

Pages:

MRP:Rs.375/-

Stock:In Stock

Rs.375/-

Details

No Details Available

Additional Information

No Additional Information Available

About the writer

MEERA KANT

MEERA KANT 1958 में श्रीनगर में जन्म। प्रकाशन : अब तक 'हाइफ़न' और 'कागज़ी बजे (कहानी-संग्रह); 'ततःकिम' और 'उर्फ हिटलर (उपन्यास); 'इंहामृग', 'नेपथ्य राग', 'भवनेश्वर दर भुवनेश्वर' और 'कन्धे पर बैठा था शाप' (नाटक), 'पुनरपि दिव्या' (नाट्य रूपान्तर) तथा अन्तरराष्ट्रीय महिला दशक और हिन्दी पत्रकारिता' शोधपरक ग्रन्थ। 'मीरा : मुक्ति की साधिक' का सम्पादन। 'ईहामृग' कालिदास नाट्य समारोह, उज्जैन में: 'नेपथ्य राग' साहित्य कला परिषद के तत्वावधान में तथा राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय के भारत रंग महोत्सव 2004 में मंचित। ‘काली बर्फ़' तथा 'दिव्या' का श्रीराम सेंटर, दिल्ली; 'भुवनेश्वर दर भुवनेश्वर' का शाहजहाँपुर और व्यथा सतीसर' का जम्मू में मंचन। पुरस्कार सम्मान : फ़िल्म लेखन के लिए वर्ष 1992 में स्वास्थ्य व परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर सेः 'नेपथ्य राग' के लिए वर्ष 2003 में मोहन राकेश सम्मान (प्रथम पुरस्कार); 'ईहामृग' के लिए सेठ गोविन्द दास सम्मान (2003); 'ततःकिम्' के लिए। अम्बिकाप्रसाद दिव्या स्मृति सम्मान (2004): 'भुवनेश्वर दर भुवनेश्वर के लिए निष्ठा सांस्कृतिक मंच की ओर से सर्वश्रेष्ठ कथानक पुरस्कार (2006) एवं हिन्दी अकादमी, दिल्ली के साहित्यकार सम्मान (2005-06) से अलंकृत।

Customer Reviews

No review available. Add your review. You can be the first.

Write Your Own Review

How do you rate this product? *

           
Price
Value
Quality