BICCHDE SABHI BAARI-BAARI

Format:Paper Back

ISBN:978-93-5000-135-6

Author:BIMAL MITRA

Pages:191

MRP:Rs.150/-

Stock:Out of Stock

Rs.150/-

Details

बांग्ला के विख्यात कथाकार बिमल मि़त्र की फिल्म अभिनेता और निर्देशक-निर्माता गुरुदत्त से मुलाकात उनके लोकप्रिय उपन्यास साहब-बीवी-गुलाम पर फिल्म बनाने के सिलसिले में हुई थी। कुछ ही दिनों में यह संबंध ऐसी प्रगाढ़ मैत्री में बदल गया कि गुरुदत्त की ट्रेजिक जिंदगी के रेशे-रेशे लेखक के सामने खुलने लगे। यह संस्मरणात्मक पुस्तक इन्हीं हसीन और उदास रेशों से बुनी गई है। गुरुदत्त द्वारा आत्महत्या कर लेने की खबर सुन कर बिमल मित्र के दिमाग को तरह-तरह के सवाल मथने लगे: गुरुदत्त की जिंदगी में आखिर किस चीज का अभाव था? वह इतना परेशान क्यों था? वह इतनी पीड़ा क्यों झेल रहा था? वह रात-दर-रात, बिना सोये, यूँ जाग-जाग कर क्यों गुजारता था? दुनिया में सुखी होने के लिए इन्सान जिन-जिन चीजों की कामना करता है, गुरुदत्त के पास वह सब कुछ था। मान-सम्मान, यश, दौलत, प्रतिष्ठा, सुनाम, सेहत, खूबसूरत बीवी, प्यारे-प्यारे बच्चे - उसके जीवन में क्या नहीं था? इसके बावजूद वह किसके लिए बेचैन, छटपटाता रहता था? मानव चरित्र के पारखी और अध्येता बिमल मित्र ने इस अत्यंत पठनीय पुस्तक में विभिन्न घटनाओं और वृत्तांतों के बीच से इस पहेली को ही सुलझाने की चेष्टा की है। इस प्रक्रिया में गुरुदत्त की गायिका पत्नी गीतादत्त, गुरुदत्त की खूबसूरत खोज वहीदा रहमान तथा इनके पेचीदा संबंध ही नहीं, और भी ऐसा बहुत कुछ सामने आता चलता है जिससे बॉलीवुड की अंदरूनी जिंदगी की विश्वसनीय झाँकियाँ उपलब्ध होती हैं।

Additional Information

No Additional Information Available

About the writer

BIMAL MITRA

BIMAL MITRA बांग्ला के प्रमुख कथाकार बिमल मित्र (1912-1991) ने सौ से अधिक उपन्यास लिखे हैं। वे अत्यंत लोकप्रिय कथाकार थे। उनकी कई कृतियों पर सफल फिल्मों का निर्माण हुआ है। भारतीय रेल सेवा से 1950 में 38 वर्ष की आयु में ही इस्तीफा दे कर वे पूर्णकालिक लेखक बन गए। वे एक सरल, गैर समझौतावादी, आधुनिक और लड़ाकू व्यक्ति थे। बिमल मित्र को रवींद्र पुरस्कार, शरत स्मृति पुरस्कार, साहित्य अकादेमी पुरस्कार आदि अनेक पुरस्कार तथा सम्मान मिले थे। उनकी कुछ बहुचर्चित कृतियाँ हैं-साहब-बीबी-गुलाम, खरीदी कौड़ियों के मोल, मरियम बेगम विश्वास, एकक दशक शतक, आसामी हाजिर।

Customer Reviews

No review available. Add your review. You can be the first.

Write Your Own Review

How do you rate this product? *

           
Price
Value
Quality