PEELE RUMALON KI RAAT

Format:Hard Bound

ISBN:978-93-5072-975-5

Author:NARENDRA NAGDEV

Pages:160

MRP:Rs.350/-

Stock:In Stock

Rs.350/-

Details

पीले रूमालों की रात

Additional Information

No Additional Information Available

About the writer

NARENDRA NAGDEV

NARENDRA NAGDEV व्यवसाय से आर्किटेक्ट तथा शौक़ से अतियथार्थवादी चित्रकार। जन्म: उज्जैन (म.प्र.)। शिक्षा: आरम्भिक शिक्षा उज्जैन में ग्रहण की। 1966 में सर जे.जे. कॉलेज ऑफ आर्किटेक्चर (बम्बई विश्वविद्यालय) से आर्किटेक्चर में डिग्री। फिर दिल्ली में बस गए, सिवाय तीन वर्ष (1978-81) के कार्यकाल के, जब त्रिपोली (लीबिया) में आर्किटेक्ट के पद पर कार्यरत रहे। कृतियाँ: तमाशबीन, उसी नाव में, बीमार आदमी का इक़रारनामा, वापसी के नाखून, सैलानी तथा वहीं रुक जाते (कहानी-संग्रह); वास्तुकला के व्यवसाय पर आधारित उपन्यास अन्वेषी प्रकाशित। रचनाएँ विभिन्न भाषाओं में अनूदित। सम्मान: मध्य प्रदेश साहित्य परिषद् द्वारा उपन्यास अन्वेषी पर ‘कृति पुरस्कार’ तथा हिन्दी अकादमी, दिल्ली द्वारा कहानी-संग्रह बीमार आदमी का इक़रार नामा पर ‘कृति सम्मान’। ऑल इंडिया फाइन आइस एण्ड क्राफ्ट्स सोसायटी का वार्षिक पुरस्कार। राष्ट्रीय स्तर की अनेक वास्तुकला प्रतियोगिताओं में विजेता तथा देश-विदेश में महत्त्वपूर्ण प्रोजेक्ट्स की डिज़ाइनें की। अनेक चित्रकला प्रदर्शनियों में भागीदारी के अलावा नई दिल्ली में चित्रों की चार एकल प्रदर्शनियाँ। सम्पर्क: बी-2/2376, वसंतकुंज, नई दिल्ली-110070

Books by NARENDRA NAGDEV

Customer Reviews

No review available. Add your review. You can be the first.

Write Your Own Review

How do you rate this product? *

           
Price
Value
Quality