BHARTIYA BHASHAYEN AUR SAHITYA

Format:Hard Bound

ISBN:978-93-5229-321-6

Author:DR. NARESH

Pages:92

MRP:Rs.250/-

Stock:In Stock

Rs.250/-

Details

No Details Available

Additional Information

इस पुस्तक में पाठक को भारत की विरासत की एक सुंदर झांकी देखने को मिलती है। जब तक हम प्रादेशिकता का मोह नहीं छोड़ेंगे तब तक हम देश के विकास की बारे में सही तरहा से नही सोच पाएंगे। भारत की प्रत्येक भाषा के साहित्य का अपना स्वतंत्र और प्रखर वैशिष्ट्य है जो अपने प्रदेश के व्यक्तित्व से मुद्रांकित है। पंजाबी और सिंधी, इधर हिन्दी और उर्दू की प्रदेश-सीमाएँ कितनी मिली हुई हैं ! किंतु उनके अपने-अपने साहित्य का वैशिष्ट्य कितना प्रखर है ! इसी प्रकार गुजराती और मराठी का जन-जीवन परस्पर ओतप्रोत है, किंतु क्या उनके बीच में किसी प्रकार की भ्रांति संभव है ! दक्षिण की भाषाओं का उद्गम एक है : सभी द्रविड़ परिवार की विभूतियाँ हैं, परन्तु क्या कन्नड़ और मलयालम या तमिल और तेलुगु के स्वारूप्य के विषय में शंका हो सकती है ! यही बात बँगला, असमिया और उड़िया के विषय में सत्य है। बँगाल के गहरे प्रभाव को पचाकर असमिया और उड़िया अपने स्वतंत्र अस्तित्व को बनाये हुए हैं। मणिप्रवालम् शैली, मराठी के पवाड़े, गुजराती के अख्यान और फागु, बँगला का मंगल काव्य, असमिया के बड़गीत और बुरंजी साहित्य, पंजाबी के रम्याख्यान तथा वीरगति, उर्दू की गजल और हिंदी का रीतिकाव्य तथा छायावाद आदि अपने-अपने भाषा–साहित्य के वैशिष्ट्य के उज्ज्वल प्रमाण हैं।

About the writer

DR. NARESH

DR. NARESH 7 नवम्बर, 1942, मालेरकोटला (पंजाब) में जन्मे कवि-कथाकार-आलोचक डॉ. नरेश लम्बे समय तक पंजाब विश्वविद्यालय में आधुनिक साहित्य के आचार्य एवं चंडीगढ़ साहित्य अकादेमी के अध्यक्ष रहे हैं। आलोचना तथा रचनात्मक साहित्य की अनेक पुस्तकों की रचना के साथ-साथ उन्होंने हिन्दी-कविता की कई विस्मृत-विलुप्त पाण्डुलिपियाँ खोजकर उनको सम्पादित एवं प्रकाशित किया है। डॉ. नरेश को देश के विभिन्न राज्यों यथा पश्चिमी बंगाल, बिहार, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, पंजाब आदि से राज्य-पुरस्कार, भारत सरकार का राष्ट्रीय पुरस्कार, म्यूज़िक वर्ल्ड, इंगलैण्ड का ‘पोएट ऑफष् दि मिलेनियम एवार्ड’ तथा अन्य कई राष्ट्रीय-अन्तरराष्ट्रीय पुरस्कार प्राप्त हो चुके हैं। उनकी अनेक कविताओं-कहानियों का देश-विदेश की विभिन्न भाषाओं में अनुवाद हो चुका है।

Customer Reviews

No review available. Add your review. You can be the first.

Write Your Own Review

How do you rate this product? *

           
Price
Value
Quality