Virendra Sarang

वीरेन्द्र सारंग, जन्म : 12 जनवरी 1959, उत्तर प्रदेश के जमानियाँ (हरपुर) गाज़ीपुर में। वीरेन्द्र सारंग हिन्दी के जाने-माने कवि-कथाकार हैं। उन्होंने घुमक्कड़ी और स्वतन्त्र लेखन के साथ-साथ सामाजिक कार्यकर्ता के रूप में भी कार्य किया है। कथा और कविता में समान रूप से लिखने वाले सारंग जी की कई कृतियाँ प्रकाशित हैं। प्रकाशित कृतियाँ : कोण से कटे हुए, हवाओ! लौट जाओ, अपने पास होना, चलो कवि से पूछते हैं (कविता संग्रह); वज्रांगी, हाता रहीम (जनगणना विषय का एकमात्र उपन्यास) सम्मान/पुरस्कार : गद्य के लिए महावीर प्रसाद द्विवेदी सम्मान, कविता के लिए (उ.प्र. हिन्दी संस्थान, लखनऊ) विजयदेव नारायण साही पुरस्कार, भोजपुरी शिरोमणि अलंकरण, प्रेमचन्द स्मृति सम्मान, साहित्य भूषण आदि कई सम्मानों से सम्मानित। वे लखनऊ में रहते हैं। मो. : 9415763226 ई-मेल : virendrasarang@gmail.com

Virendra Sarang

Books by Virendra Sarang