Conceptualization and Translation by Anuradha Sing

अनुराधा सिंह हिन्दी की सुपरिचित कवयित्री, लेखिका और अनुवादक। ओबरा, उत्तर प्रदेश में जन्म। आगरा के दयालबाग शिक्षण संस्थान में सम्पूर्ण शिक्षा-दीक्षा। भारतीय ज्ञानपीठ से ईश्वर नहीं नींद चाहिए नामक कविता संग्रह प्रकाशित व चर्चित, 15वें शीला सिद्धान्तकर सम्मान व 19वें हेमन्त स्मृति सम्मान से पुरस्कृत। स्वर्गीय मंगलेश डबराल पर समकालीन स्त्री कवियों द्वारा लिखे गये संस्मरणों की किताब बचा रहे स्पर्श का सम्पादन। अश्वेत और तिब्बती कविताओं के अतिरिक्त ख्यात साम्यवादी लेखक बेनेडिक्ट ऐंडरसन का हिन्दी अनुवाद उल्लेखनीय। अन्तरराष्ट्रीय कविता संचयन टु लेट द लाइट इन के हिन्दी खण्ड का सम्पादन। मुम्बई में काला घोड़ा कला महोत्सव, भारत भवन भोपाल में दिनमान समारोह, रज़ा फ़ाउण्डेशन के युवा 2017, रज़ा फ़ाउण्डेशन द्वारा ही दिल्ली व पटना में आयोजित आज कविता तथा युवा कविता समारोह, स्वर्गीय वीरेन डंगवाल की स्मृति में आयोजित वीरेनियत, टैगोर विश्वविद्यालय के लिटरेचर व आर्ट फेस्टिवल इत्यादि में कविता पाठ के लिए आमन्त्रित। प्रमुख पत्रिकाओं के विशेषांकों में कविताएँ, अनुवाद, आलोचनात्मक निबन्ध व साक्षात्कार प्रकाशित। सम्प्रति : मुम्बई में प्रबन्धन कक्षाओं में बिज़नेस कम्युनिकेशन का अध्यापन। ईमेल : anuradhadei@yahoo.co.in मोबाइल : 9930096966

Conceptualization and Translation by Anuradha Sing

Books by Conceptualization and Translation by Anuradha Sing