DR. KUSUM KHEMANEE

शिक्षा : एम.ए. (प्रथम श्रेणी), पी-एच.डी. कोलकाता विश्वविद्यालय। प्रकाशन : सचित्र हिन्दी बालकोश (राष्ट्रपति शंकर दयाल शर्मा द्वारा लोकार्पित); हिन्दी नाटक के पाँच दशक, कुछ रेत कुछ सीपियाँ विचारों की, सच कहती कहानियाँ, कहानियाँ सुनातीं यात्राएँ, हिन्दी-अंग्रेजी बालकोश। अनुवाद : जन-अरण्य (शंकर); शुधु एकटि ठिकाना, चशमा पालटे जाय (आशापूर्णा देवी) एवं ज्योतिर्मयी देवी के कहानी-संग्रह का हिन्दी अनुवाद। बर्लिन (जर्मनी) में 'फंडामेंटेलिज्म’ विषय पर आयोजित सम्मेलन में दलाई लामा की विशेष उपस्थिति में आलेख प्रस्तुति एवं दलाई लामा द्वारा विशेष सराहना; त्रिनिदाद में आयोजित हिन्दी सम्मेलन में 'हिन्दी की विरासत और समीचीनता’ विषय पर आलेख प्रस्तुति। डरबन (दक्षिण अफ्रीका) में 'धर्म : ए वे ऑफ लाइफ’ की प्रेस और मीडिया में विशेष चर्चा। नेल्सन मंडेला द्वारा व्यक्तिगत साधुवाद। दूरदर्शन व ऑल इंडिया रेडियो के कार्यक्रमों में निरन्तर सहभागिता। 'वागर्थ’ का सम्पादन; विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं में लेखन; साहित्य व कला संस्कृति से सम्बद्ध सरकारी और ग़ैर-सरकारी संस्थाओं में विभिन्न पदों पर सक्रिय भागीदारी। भारतीय भाषा परिषद में पच्चीस वर्षों से सचिव। सम्पर्क : अस्तर कोर्ट, 3 लाउडन स्ट्रीट, कोलकाता-700017 ई-मेल : kusumkhemani1944@yahoo.com

DR. KUSUM KHEMANEE

Books by DR. KUSUM KHEMANEE