DALIT SAHITYA : BUNIYADI SAROKAR

Format:Hard Bound

ISBN:978-81-8143-998-7

Author:PRANAV SHARMA

Pages:282


MRP : Rs. 395/-

Stock:Out of Stock

Rs. 395/-

Details

प्रोफेसर कृष्णदत्त पालीवाल उत्तर-आधुनिकतावादी, उत्तर-संरचनावादी विमर्शों को हिन्दी में स्थापित करने वाले आलोचकों में अग्रणी रहे हैं। लगभग चार दशकों में बौद्धिक-सांस्कृतिक विमर्शों में उनकी सक्रिय हिस्सेदारी का एक अविस्मरणीय सन्दर्भ है। वे सर्वेश्वरदयाल सक्सेना, भवानी प्रसाद मिश्र, गिरिजाकुमार माथुर, मनोहर श्याम जोशी, निर्मल वर्मा के साथ-साथ मैथिलीशरण गुप्त और अज्ञेय से निरन्तर संवाद करते रहे हैं। उनका विचार है कि यह समय आलोचना की परम्परागत पद्धतियों से हटकर नये विमर्शों में अर्थ-उत्पादन की बहुलार्थक प्रक्रिया से जुड़ने का है।

Additional Information

No Additional Information Available

About the writer

PRANAV SHARMA

PRANAV SHARMA

Books by PRANAV SHARMA

Customer Reviews

amit

good
good book for knowlege
Quality
Price
Value

Write Your Own Review

How do you rate this product? *

           
Price
Value
Quality