Ek Aur Kahani

Format:Hard Bound

ISBN:978-81-8143-773-0

Author:DR. RAMESH POKHRIYAL

Pages:80

MRP:Rs.125/-

Stock:In Stock

Rs.125/-

Details

एक और कहानी

Additional Information

डॉ. निशंक ने अपने कथा साहित्य में उत्तराखण्ड को प्राथमिकता के साथ उकेरते हुए पर्वतीय जनजीवन को सजीव रूप से चित्रित किया है। वास्तविकता यह है कि आज़ादी के साठ साल बीत जाने पर भी हमारे पर्वतीय राज्यों, आदिवासी क्षेत्रों तथा अभी तक इन इलाकों में रहने वाले करोड़ों लोग किस कठिनाईयों में जी रहे हैं इसकी ओर शासन सत्ता का ध्यान बहुत ही कम गया है या फिर गया ही नहीं है। इन्ही कठिनाईयों से उभरे जमीनी लेखक डॉ. निशंक लोकतंत्र के सजग प्रहरी के रूप में शासन सत्ता से जुड़े रहे हैं और उत्तर प्रदेश तथा उत्तराखण्ड की राज्य सरकारों में मंत्री पद पर रहते हुए उन्होंने दलितों, वंचितों की पीड़ा को निकट से देखा और महसूस किया है। जहाँ पर्वतीय जीवन के यथार्थ को अपने कथा साहित्य का आधार बनाने वाले डॉ. निशंक ने पर्वतपुत्रों की त्रासदी को जहाँ यथार्थ रूप में चित्रित किया है, वहीं उन्होंने पर्वतीय महिलाओं की जीवन तथा परिश्रम की गाथाओं को भी चित्रित किया है। मैं दृढ़ता के साथ कह सकता हूं कि कथाकार के रूप में डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक' पर्वतीय जीवन की त्रासदी को ऐसी सजीव अभिव्यक्ति देते हैं कि उनका कथा यथार्थ पाठक के सरोकारों को जीवंत रूप देता है। निश्यच ही कथाओं में निर्द्वन्द्व सच को उकेरने वाले कथाकार डॉ. निशंक मानवीय संवेदनाओं के सिद्धहस्त शिल्पी है। डॉ. योगेन्द्र नाथ शर्मा 'अरुण' सदस्य साहित्य अकादमी

About the writer

DR. RAMESH POKHRIYAL

DR. RAMESH POKHRIYAL मूल नाम : डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक जन्म : 15 अगस्त 1959, पिनानी , पौड़ी गढ़वाल तत्कालीन (उत्तराखण्ड) भाषा : हिंदी विधाएँ : कविता संग्रह, कथा संग्रह, पत्र-संकलन, उपन्यास मुख्य कृतियाँ कविता संग्रह- समर्पण; नवाकुर, मुझे विधाता बनना है, तुम भी मेरे साथ चलो; मातृभूमि के लिए; जीवन पथ में; कोई मुश्किल नहीं; प्रतीक्षा; ए वतन तेरे लिए कथा संग्रह- रोशनी की एक किरण; बस एक ही इच्छा; क्या नहीं हो सकता; भीड़ साक्षी है; खडे़ हुए प्रश्न; विपदा जीवित है; एक और कहानी; मेरे संकल्प पत्र-संकलन- मेरी व्यथा-मेरी कथा उपन्यास- निशान्त, मेजर निराला; बीरा; पहाड़ से ऊंचा संपर्क 37/1 विजय कॉलोनी, रवीन्द्र नाथ टैगोर मार्ग, देहरादून, उत्तराखण्डर ई-मेल nishankramesh@gmail.com

Customer Reviews

No review available. Add your review. You can be the first.

Write Your Own Review

How do you rate this product? *

           
Price
Value
Quality