Baat Paise Ki

Format:Hard Bound

ISBN:978-93-89915-22-8

Author:Monika Halan Translator by Mridula Halan

Pages:200


MRP : Rs. 250/-

Stock:In Stock

Rs. 250/-

Details

बात पैसे की

Additional Information

पैसा कमाने के लिए हम जी तोड़ मेहनत करते हैं। हम कितना भी पैसा कमा लें, पैसे की चिन्ता हमारा पीछा ही नहीं छोड़ती। बिल, किराया, ई.एम.आई., बीमारी और दवाइयों पर होने वाला ख़र्च छुट्टियों में कहीं जाना, बच्चों की पढ़ाई...के अलावा एक अव्यक्त-सी चिन्ता हमेशा हमें सालती रहती है कि सेवानिवृत्ति के बाद हमारा क्या होगा? हमने पैसा कमाने के लिए जितनी मेहनत की, सोचिए, अगर उतनी ही संजीदगी से बचत का निवेश करें तो ज़िन्दगी कितनी सहज हो जाये। निवेश की कौन-सी स्कीम बेकार है, यह पता लगाने का अचूक नुस्ख़ा मिल जाये? कोई ऐसी आसानी से समझ आने वाली स्कीम मिल जाये जो आने वाले कल के लिए पुख़्ता बचत करने के साथ-साथ हमारे 'आज' को भी ख़ुशहाल रख सके? व्यक्तिगत वित्त प्रबन्धन का जाना-माना और भरोसेमन्द नाम, मोनिका हालन, आपको वित्तीय सुरक्षा का एक आसान तरीक़ा बता रही हैं। यह पुस्तक आपको तत्काल अमीर होने का नुस्ख़ा नहीं बताती; पर आप जैसी ज़िन्दगी जीना चाहते हैं, उसका तरीक़ा प्रस्तुत करती है। इसे अपनाकर आपको यह चिन्ता नहीं सतायेगी कि सही निवेश और दोषरहित बीमा कौन-सा है। भारतीय परिदृश्य को ध्यान में रखकर, विशेष रूप से आपके लिए ही लिखी गयी है।

About the writer

Monika Halan Translator by Mridula Halan

Monika Halan Translator by Mridula Halan मोनिका हालन मिंट की सलाहकार-सम्पादक होने के साथ-साथ लीडरशिप टीम की सदस्य भी हैं। एक प्रमाणित फ़ाइनेंस प्लानर मोनिका ‘आउटलुक मनी' की सम्पादक भी रह चुकी हैं। इसके अलावा भारत की सर्वश्रेष्ठ मीडिया संस्थाओं जैसे 'इंडियन एक्सप्रेस', 'इकोनॉमिक टाइम्स' और 'बिज़नेस टुडे' में भी काम कर चुकी हैं। व्यक्तिगत अर्थ प्रबन्धन की सलाह पर आधारित चार बेहद सफल टी.वी. कार्यक्रम कर चुकी हैं जिन्हें एनडीटीवी और ब्लूमबर्ग इंडिया ने प्रसारित किया। खुदरा वित्त से जुड़े वित्तीय साक्षरता, नियन्त्रण और उपभोक्ता मसलों पर वे नियमित रूप से अपने विचार रखती रहती हैं। वे एस.ई.बी.आई. के म्युचुअल फंड की सलाहकार समिति की सदस्य हैं। इसके अतिरिक्त चार सरकारी समितियों में भी काम कर चुकी हैं। वे नयी दिल्ली में रहती हैं और @monikahalan पर ट्वीट करती हैं।

Books by Monika Halan Translator by Mridula Halan

Customer Reviews

No review available. Add your review. You can be the first.

Write Your Own Review

How do you rate this product? *

           
Price
Value
Quality